विस का शीत सत्र में एक दर्जन विधेयक संभावित

भोपाल, दिसंबर 2012/ मध्‍यप्रदेश विधानसभा के मंगलवार से शुरू 11 दिवसीय शीतकालीन सत्र में कुल नौ बैठकें होंगी। इसमें द्वितीय अनुपूरक बजट के साथ करीब एक दर्जन के विधेयक आने की संभावना है। विधायकों ने सरकार से 28 सौ से ज्यादा सवाल पूछे हैं।

कौन से विधेयक आएंगे

जानकारी के मुताबिक शीतकालीन सत्र में मध्यप्रदेश निजी विवि संशोधन, सांची बौद्ध तथा भारतीय ज्ञान अध्ययन विवि, भूमिगत पाइप लाइन, केबल एवं डक्ट और वेट का द्वितीय संशोधन विधेयक अध्यादेश के स्थान पर आएगा। इसके अलावा नियोजक एवं नियोजिती के अंशदान में वृद्धि के लिए श्रम कन्याण निधि, एक दिन के विधायक को भी पेंशन की पात्रता देने विधानसभा सदस्य वेतन, भत्ता तथा पेंशन, गृह निर्माण एवं अधोसंरचना विकास मंडल, अधिवक्ता कल्याण निधि और न्यायालय फीस संशोधन विधेयक प्रस्तुत किए जाएंगे। बताया जा रहा है कि इनके अतिरिक्त दो तीन विधेयक और इसी सत्र में पेश किए जा सकते हैं।

विधानसभा सचिवालय के अनुसार अब तक 16 सौ 77 तारांकित और 11 सौ 75 अतारांकित सवाल पूछे गए हैं। करीब 124 ध्यानकर्षण की सूचनाएं प्राप्त हुई हैं। नौ मुद्दों पर स्थगन सूचनाएं मिली हैं। अविलंबनीय चर्चा के लिए सात प्रस्ताव मिले हैं। सत्र के दौरान 37 अशासकीय संकल्प आने की संभावना है। शून्यकाल में उठाए जाने वाले मुद्दों को लेकर 68 सूचनाएं आई हैं। 150 याचिकाएं भी इस दौरान पेश होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here