शासकीय सेवायें हर घर तक पहुँचाएंगे: डॉ. नरोत्तम मिश्रा

भोपाल, नवंबर 2012/ लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में राज्य सरकार ने शासकीय सेवायें प्रदेश के हर घर में पहुँचाने का केवल संकल्प ही नहीं लिया अपितु उन्हें पहुँचाया भी है। डॉ. मिश्रा राजधानी के जे.पी. अस्पताल में सरदार वल्लभ भाई पटेल निःशुल्क औषधि वितरण योजना का शुभारंभ कर रहे थे। इस अवसर पर गृह मंत्री उमा शंकर गुप्ता ने कहा कि सरकारी अस्पतालों में बिना किसी भेदभाव के निःशुल्क औषधि वितरण एक अभूतपूर्व योजना है। इस योजना के लिये 216 करोड़ का बजट राज्य शासन द्वारा उपलब्ध करवाया गया है। इसमें 51 करोड़ रुपये की राशि राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन की है।

डॉ. मिश्रा ने कहा कि आगामी एक माह में लोक स्वास्थ्य के क्षेत्र में जन-सुविधाओं का तेजी से विस्तार होगा। रोगियों को अस्पताल तक लाने के लिये प्रदेश के सभी 50 जिलों में 108 एम्बुलेंस सेवा सुलभ करवाई जायेगी। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य से लेकर दूरदराज ग्रामीण क्षेत्रों में तैनात ‘‘आशा’’ कार्यकर्ताओं को त्वरित स्वास्थ्य सूचना से जोड़ने के लिये 77 हजार मोबाइल सिम उपलब्ध करवाई जायेगी। इसके साथ ही 10 हजार स्वास्थ्य दूत तैनात किये जायेंगे। अभी 10 जिलों में स्वास्थ्य बीमा योजना लागू होगी। बाद में पूरे प्रदेश की जनता को स्वास्थ्य बीमा योजना में शामिल किया जायेगा।

डॉ. मिश्रा ने कहा कि प्रदेश के शासकीय चिकित्सालयों में आने वाले बाह्य रोगियों और अस्पताल में भर्ती रोगियों को वे चाहे किसी वर्ग से संबंधित हो, बिना किसी भेदभाव के औषधियों के निःशुल्क वितरण की 24 घन्टे व्यवस्था रहेगी। निःशुल्क औषधि वितरण के लिये दवाओं का पर्याप्त भंडारण किया गया है। अस्पतालों में 147 प्रकार की दवाएँ उपलब्ध रहेंगी और उनकी सूची भी वहाँ लगाई जायेगी। लोक स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि भविष्य में चरणबद्ध तरीके से दवाओं की संख्या बढ़ाई जायेगी ताकि आम जनता को बाहर से दवाएँ खरीदना ही न पड़े। दवाओं के अलावा शासन द्वारा अब उपचार में काम आने वाली अन्य सामग्री जैसे डिस्पोजेबल सीरिंज, निडिल, आई.वी. केनूला, ड्रिप सेट और ऑपरेशन में काम आने वाले सर्जिकल सूचर आदि सामग्री उपलब्ध करवाने की व्यवस्था की जा रही है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा सिविल सर्जन द्वारा योजना के क्रियान्वयन पर सतत् नजर रखी जायेगी। औषधियों का लेखा-जोखा रखने के लिये दवा वितरण केन्द्रों में कम्प्यूटर की भी व्यवस्था की गई है।

सांसद कैलाश जोशी ने कहा कि अब आम जनता को बिना किसी बाधा के निःशुल्क दवाएँ निरन्तर मिलती रहे, इसका दायित्व योजना को क्रियान्वित करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों का है। विधायक श्री विश्वास सारंग ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

प्रमुख सचिव प्रवीर कृष्ण ने कहा कि योजना के माध्यम से स्वास्थ्य क्षेत्र में कार्यरत अधिकारी-कर्मचारियों को आम जनता की सेवा का एक और अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि 99 प्रतिशत बीमारियों में काम आने वाली दवाएँ अस्पतालों से इस योजना में निःशुल्क वितरित की जा रही हैं।

कार्यक्रम में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष रमेश शर्मा, खनिज विकास निगम के अध्यक्ष रामेश्वर शर्मा, आयुक्त परिवार कल्याण एवं लोक स्वास्थ्य पंकज अग्रवाल, नियंत्रक खाद्य एवं औषधि प्रशासन श्रीमती एम. गीता, कलेक्टर निकुंज श्रीवास्तव, फार्मेसी काउन्सिल के अध्यक्ष बसंत गुप्ता और जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष अभय मेहता, संचालक स्वास्थ्य डॉ. अशोक शर्मा उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन सिविल सर्जन श्रीमती वीणा सिन्हा ने और आभार प्रदर्शन मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पंकज शुक्ला ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here