श्रेष्ठतम कार्यों के लिये अधिकारियों को सुशीलचन्द्र वर्मा पुरस्कार

भोपाल, सितंबर 2013/ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2011-12 में प्रदेश में हुए विकास कार्यों के लिये यहाँ राज्य-स्तरीय समारोह में सुशीलचन्द्र वर्मा उत्कृष्ट पुरस्कार प्रदान किये गये। इनमें संभागायुक्त उज्जैन अरूण कुमार पाण्डे सहित विभिन्न जिलों में पदस्थ रहे तत्कालीन कलेक्टर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा और मध्यप्रदेश ग्रामीण सड़क विकास प्राधिकरण के अभियंता तथा अन्य विभागीय अधिकारी हैं, जिन्हें पुरस्कृत किया गया।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव ने उत्कृष्ट कार्यों के लिये अधिकारियों को प्रमाण-पत्र तथा नगद पुरस्कार राशि प्रदान की। यह पुरस्कार पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत संचालित मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना, समग्र स्वच्छता अभियान, जल ग्रहण क्षेत्र प्रबंधन मिशन, पंच परमेश्वर योजना, जिला गरीबी उन्मूलन परियोजना और ग्रामीण अंचलों में हो रहे अधोसंरचना विकास तथा उत्कृष्ट निर्माण कार्यों के लिये दिये गये।

वित्तीय वर्ष 2011-12 में विभिन्न संभाग में उत्कृष्ट ग्रामीण विकास कार्यों के लिये संभागायुक्त उज्जैन अरूण कुमार पाण्डे को 50 हजार रुपये का प्रथम पुरस्कार दिया गया। इसके अलावा जिला-स्तर पर हुए उत्कृष्ट कार्यों के संबंध में तत्कालीन कलेक्टर, जिला दतिया अशोक देशवाल को राज्य-स्तरीय प्रथम पुरस्कार, तत्कालीन कलेक्टर, जिला सीहोर डॉ. संजय गोयल को द्वितीय पुरस्कार तथा तत्कालीन कलेक्टर, जिला मंदसौर महेन्द्र ज्ञानी को तृतीय पुरस्कार मिला। जलग्रहण क्षेत्र प्रबंधन मिशन के उत्कृष्ट कार्यों के लिये तत्कालीन कलेक्टर, जिला नीमच लोकेश जाटव को प्रथम पुरस्कार दिया गया।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत खरगोन पी.सी. शर्मा को राज्य-स्तरीय प्रथम पुरस्कार, तत्कालीन मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत मंदसौर अशोक भार्गव को द्वितीय पुरस्कार, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत इंदौर गोपाल चन्द्र डांड को तृतीय पुरस्कार दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here