संकट की घड़ी में सरकार किसानों के साथ: मुख्‍यमंत्री

सीहोर, फरवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष श्रीमती सुषमा स्वराज ने सीहोर और रायसेन जिलों में ओला प्रभावित फसलों का निरीक्षण किया। श्री सिंह नरसिंहपुर जिले में भी प्रभावित फसलों का देखने गए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष से प्राकृतिक आपदा से फसलों की क्षति होने पर 8,500 रुपये के स्थान पर 10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की दर से राहत राशि दी जाएगी। संकट की इस घड़ी में सरकार किसानों के साथ है। ओला प्रभावित कृषकों से ऋण वसूली स्थगित रखी जाएगी तथा अल्पकालीन ऋण को मध्यकालीन ऋण में बदला जाएगा तथा ब्याज का भुगतान सरकार करेगी। साथ ही बिजली के बिल की वसूली भी स्थगित रखी जाएगी। आधा बिल सरकार भरेगी तथा सरचार्ज माफ कर दिया जाएगा। उन्होंने कलेक्टर से कहा कि पीड़ित कृषकों को फसल बीमा योजना का लाभ दिलाना सुनिश्चित करें तथा ग्रीष्मकालीन फसलों की संभावना तलाशे।

सांसद श्रीमती सुषमा स्वराज ने प्रभावित किसानों के प्रति सहानुभूति प्रगट करते हुए कहा कि सरकार हरसंभव सहायता उपलब्ध करवाएगी। मुख्‍यमंत्री और श्रीमती स्‍वराज ने रायसेन जिले में भी ओला प्रभावित गांवों का दौरा किया । लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष श्रीमती स्वराज ने कहा कि हम आपका दुख बाँटने आए हैं। प्रदेश सरकार प्रभावितों के साथ हैं। मुख्यमंत्री किसानों की परेशानी भलीभाँति समझते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here