संजीवनी व जननी एक्सप्रेस संचालन कॉल सेंटर से

भोपाल, जून 2013/ मध्‍यप्रदेश सरकार ने संजीवनी-108 एम्बुलेंस सेवा तथा जननी एक्सप्रेस वाहनों को समन्वित रूप से केन्द्रीय कॉल सेंटर के माध्यम से परिचालित करने का निर्णय लिया। इससे इन वाहनों की और प्रभावी मॉनीटरिंग हो सकेगी और व्यय में भी कटौती होगी।

निर्णय के अनुसार अब संजीवनी-108 एम्बुलेंस के साथ-साथ सभी जननी एक्सप्रेस वाहनों को भी जीव्हीके ईएमआरआई द्वारा संचालित केन्द्रीय कॉल सेंटर के साथ सम्बद्ध किया जायेगा। इससे एक टोल-फ्री नम्बर 108 से दोनों प्रकार के वाहन उपलब्ध हो सकेंगे। कॉल सेंटर की क्षमता में आवश्यक वृद्धि की जायेगी जिससे प्रदेश में परिचालित सभी जननी एक्सप्रेस वाहनों तथा संजीवनी-108 वाहन का नियंत्रण केन्द्रीय कॉल सेंटर के माध्यम से किया जा सके।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में सम्पन्न मंत्रि-परिषद् की बैठक में 6 सिंचाई परियोजना के लिए 1720 करोड़ 30 लाख 88 हजार रुपये की स्वीकृति दी गई।

कारीगर स्व-रोजगार योजना

मंत्रि-परिषद् ने मुख्यमंत्री ब्याज अनुदान योजना का अनुसमर्थन किया। योजना के हितग्राहियों को मुख्यमंत्री युवा स्व-रोजगार योजना के अनुरूप 5 प्रतिशत ब्याज की दर से ब्याज अनुदान सहायता स्वीकृत की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here