संपर्क सेतु योजना का मुख्यमंत्री द्वारा शुभारंभ

भोपाल, जनवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने यहाँ स्वास्थ्य विभाग के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को विशेष सिम द्वारा जोड़ने के संपर्क सेतु कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस कार्यक्रम के तहत स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को 77 हजार सिमकार्ड वितरित की जा रही है। आशा दिवस पर आयोजित इस कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा विशेष रूप से उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में मोबाइल द्वारा प्रदेश के आदिवासी बाहुल्य झाबुआ जिले के ग्राम गोपालपुरा की आशा कार्यकर्ता श्रीमती निर्मला मकवाना से बात की और स्वास्थ्य सेवाओं की जानकारी ली। स्वास्थ्य विभाग को बधाई देते हुए उन्‍होंने कहा कि इस कार्यक्रम के जरिये स्वास्थ्य संबंधी सूचनाओं के त्वरित आदान-प्रदान से विभाग की सेवायें और बेहतर बनेगी। दूरस्थ क्षेत्रों के लिये तत्काल सूचनाएं मिल सकेगी। स्वास्थ विभाग का अमला जीवंत संपर्क में रहेगा। इस कार्यक्रम के जरिये टीकाकरण, संस्थागत प्रसव, जननी सुरक्षा और स्वास्थ्य संबंधी अन्य विषयों की जानकारी भी ली जाये।

मुख्यमंत्री  ने झाबुआ जिले की आशा कार्यकर्ता से सीधे बात करते हुये विभाग की तमाम योजनाओं की जानकारी ली। पूछा कि टीकाकरण कार्यकर्ताओं का भुगतान समय पर हो रहा है कि नहीं, क्षेत्र में कहीं कोई बीमारी तो नहीं फैली। संस्थागत प्रसव की स्थिति सहित विभागीय योजनाओं की जानकारी लेते हुये उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं को ग्रामीणों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें देने के लिये बेहतर कार्य करने को कहा।

श्री चौहान ने इस मौके पर स्वास्थ्य संबंधी योजनाओं की सीडी स्वास्थ्य सरगम‘ और आशा मार्गदर्शिका के ब्रोशर का विमोचन भी किया। कार्यक्रम में प्रमुख सचिव स्वास्थ्य प्रवीर कृष्ण, सचिव सूरज डामोर, आयुक्त स्वास्थ्य पंकज अग्रवाल, संचालक स्वास्थ्य डॉ. संजय गोयल, संचालक स्वास्थ्य अशोक शर्मा सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

संपर्क सेतु योजनासंपर्क सेतु योजना के अंतर्गत 77 हजार सिमकार्ड स्वास्थ्य विभाग की समस्त आशा, समस्त एएनएम, एम.पी.डब्लू. महिला एवं पुरूष सुपरवाइजर, खण्डचिकित्सा अधिकारी, स्वास्थ्य संस्थाओं (प्राथमिक/समुदाय स्वास्थ्य केन्द्र व सिविल अस्पताल) के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, विकासखण्ड कार्यक्रम प्रबंधक, सिविल सर्जन, मुख्य चिकित्सा अधिकारी तथा अन्य अधिकारियों को प्रदान की जा रही है। इस सिम के वितरण के पश्चात प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग में पदस्थ उच्च अधिकारी से लेकर उप स्वास्थ्य केन्द्र तक के अधिकारी से स्वास्थ्य कार्यकर्ता सीधी बात कर सकेंगे। प्रदेश के किसी भी दूरस्थ अंचल में बीमारी होने की स्थिति में त्वरित अवगत करा सकेंगे। दूसरी ओर अधिकारी की इन्हीं विषयों पर कार्यकर्ताओं से संपर्क कर सकेंगे तथा जानकारी ले सकेंगे तथा आवश्यक दिशा निर्देश दे सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here