समाज के सहयोग से प्रदेश अव्‍वल बनेगा: शिवराज

भोपाल, दिसंबर 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि पीड़ित मानवता की सेवा ही ईश्वर की सेवा है। इसी बात को ध्यान में रखकर प्रदेश सरकार अपना कार्य करेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता मेरी भगवान है और में उसका पुजारी हूँ। समाज एवं संतों के सहयोग से प्रदेश को देश का सबसे अव्वल राज्य बनाया जायेगा। मुख्यमंत्री सोमवार को रंगून गार्डन इंदौर में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

राज्य सरकार की प्राथमिकताएँ

मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार की पाँच प्राथमिकताएँ गिनाते हुए बताया कि राज्य सरकार की पहली प्राथमिकता है बेटी बचाओ और बेटी बढ़ाओ। दूसरी प्राथमिकता है नशा बंदी। प्रदेश में अब कोई शराब का कारखाना नहीं लगेगा और न ही कोई नई शराब की दुकान खुलेगी। तीसरी प्राथमिकता होगी पानी की एक-एक बून्द को बचाना। उन्होंने बताया कि नर्मदा-क्षिप्रा-सिंहस्थ लिंक परियोजना के अंतर्गत कार्य लगभग पूर्ण हो गया है तथा फरवरी माह तक नर्मदा का पानी क्षिप्रा में आ जायेगा। राज्य सरकार की अगली प्राथमिकता है चौबीस घंटे बिजली प्रदाय। श्री चौहान ने जन-सामान्य से अपील की कि वे अनावश्यक बिजली न जलायें। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार की पाँचवी प्राथमिकता होगी अधिक से अधिक पेड़ लगाना तथा ग्राम एवं शहरों को स्वच्छ बनाना। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार हर व्यक्ति को रोटी, कपड़ा और मकान उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि गरीब वर्ग के जो लोग जिस भूमि पर बहुत दिनों से रह रहे होंगे तो उन्हें भूमि के पट्टे प्रदाय किए जायेंगे, जिससे वे विधिवत रूप से अपना मकान बना सकें। मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्धन वर्ग परिवार की पढ़ाई, लिखाई और स्वास्थ्य का भी पूरा ध्यान रखा जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए राज्य सरकार ने हर-संभव प्रयास किए हैं। कृषि के क्षेत्र में प्रदेश ने अभूतपूर्व तरक्की की है। राज्य सरकार ने गेहूँ, धान एवं मक्का पर किसानों को प्रति क्विंटल 150 रूपये अतिरिक्त बोनस के रूप में उपलब्ध कराये हैं। राज्य सरकार ने हर वर्ग की पंचायतें आयोजित कर सभी वर्गों के कल्याण के लिए योजनाएँ बनाकर उन्हें प्रदेश में सफलतापूर्वक लागू किया है। गरीबों को एक दिन की मजदूरी में पूरे माह का भोजन उपलब्ध कराने की भी व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में मातृ एवं शिशु मृत्युदर को कम करने के अनवरत प्रयास किए जा रहे हैं, जिनसे इन दरों में कमी आई है। प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं में उल्लेखनीय सुधार हुआ है। शासकीय अस्पतालों में अब मुफ्त इलाज के साथ मुफ्त दवाएँ एवं जाँचें भी की जा रही है।

कार्यक्रम में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता श्री नितिन गडकरी ने कहा कि मध्यप्रदेश में शोषित, पीड़ित एवं दलितों के लिए विशेष योजनाएँ श्री शिवराज सिंह द्वारा संचालित की जा रही हैं, जिनकी पूरे देश में सराहना हो रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कृषि के क्षेत्र में उल्लेखनीय प्रगति हुई है। प्रदेश में कृषि विकास दर 18 प्रतिशत से अधिक पहुँच गई, जबकि इस अवधि में राष्ट्रीय कृषि विकास दर बहुत कम रही।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने चलित मिट्टी एवं जल प्रयोगशाला का भी लोकार्पण किया। कार्यक्रम में समाज सेवी डॉ अभय बंग को सम्मानित किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here