सामुदायिक भवनों में पुलिसकर्मियों की बेटियों की शादी निःशुल्क होगी

भोपाल, नवंबर 2012/ प्रदेश में पुलिस लाइन्स में स्थित सामुदायिक भवनों में पुलिस बल के कर्मचारियों की बेटियों की शादी के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने यह बात पुलिस लाइन नेहरू नगर में बहुउद्देश्यीय सामुदायिक भवन के भूमि-पूजन समारोह में कही।

श्री गुप्ता ने कहा कि पुलिस बल की सुविधाएँ बढ़ाने के हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। पुलिस अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। अपराधियों में पुलिस का खौफ होना जरूरी है। कोई भी कर्मचारी-अधिकारी ऐसा काम नहीं करे, जिससे पुलिस की छवि खराब हो। प्रदेश में आगामी एक जनवरी से मध्यप्रदेश पुलिस स्वास्थ्य सुरक्षा योजना लागू होगी। योजना में अधिकारियों-कर्मचारियों को 8 लाख रुपये तक की इलाज की सुविधा रहेगी। गृह भाड़ा भत्ता में वृद्धि कर दी गयी है। अब कर्मचारियों की पदोन्नति के प्रयास किए जा रहे हैं।

अब सालाना चार हजार मकान बनेंगें

गृह मंत्री ने जानकारी दी कि पुलिस बल के आवास की समस्या के निदान के लिए अब सालाना 4,000 मकान बनाए जाएँगे। अभी हर साल 2,500 मकान बनाए जा रहे हैं। मकान बनाने के लिए हुडको से लोन भी लिया गया है। उन्होंने बताया कि पी.पी.पी. मोड में मकान बनवाने के साथ ही पुलिस कर्मचारियों को किस्त पर मकान बनवाकर देने की योजना पर भी विचार चल रहा है।

अब पुलिस कॉलोनी के मकानों का मेंटेनेंस भी अब पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन द्वारा करवाया जाएगा। इस वित्तीय वर्ष में मेंटेनेंस के लिए पाँच करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे। आगे भी मकानों की मरम्मत प्राथमिकता से करवायी जाएगी।

एक करोड़ में बनेगा सामुदायिक भवन

पुलिस लाइन नेहरू नगर में एक करोड़ में बहुउद्देश्यीय सामुदायिक भवन बनवाया जाएगा। भवन 7500 वर्ग फीट में बनेगा। सामुदायिक भवन में एक हॉल, 6 कमरे, 2 डॉरमेट्री और एक मंच रहेगा। भवन में 16 शौचालय भी बनवाए जाएँगे। भवन का कार्य 8 माह में पूर्ण कर लिया जाएगा। यह भवन पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन की बचत राशि से बनाया जा रहा है।

पुलिस महानिदेशक नदंन दुबे ने कहा कि भवन के शिलान्यास से बहुत पुरानी माँग अब पूरी होने जा रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस कल्याण के लिए हरसंभव उपाय किए जा रहे हैं। पुलिस हाउसिंग कार्पोरेशन के अध्यक्ष एस.एस.लाल ने कार्पोरेशन की गतिविधियों की जानकारी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here