सीएम हेल्पलाइन योजना को मिली सराहना

भोपाल, अगस्त 2014/ डिजिटल भारत पर दिल्ली में राज्यों के आईटी मंत्रियों एवं सचिवों के सम्मलेन में मध्यप्रदेश की सीएम हेल्पलाइन योजना को खासी सराहना मिली है। प्रदेश का प्रतिनिधित्व करते हुए सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार के आईटी विभाग ने प्रदेश के लोगों की समस्याओं को सुलझाने का अभिनव कार्य प्रारंभ किया है। सीएम हेल्पलाइन 181 के जरिये रोजाना हजारों शिकायतों को सुना जा रहा है और उनका निराकरण भी किया जा रहा है। यही नहीं इस जन हेतु-जन सेतु योजना में लापरवाही बरतने पर अधिकारियों एवं कर्मचारियों पर कार्रवाई भी की जा रही है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार ने यह साबित किया है कि सुशासन के क्षेत्र में आईटी  के माध्यम से सफलता प्राप्त की जा सकती है। सीएम हेल्पलाइन योजना की इन्हीं खूबियों की सम्मलेन में देश भर से आये सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्रियों और अधिकारियों ने सराहना की।

श्री सिंह ने आईटी के क्षेत्र में मध्य प्रदेश की उपलब्धियों की जानकारी देते हुए कहा कि देश में सबसे पहले ई-मेल नीति को मध्य प्रदेश की सरकार ने लागू किया।  इस नीति को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी डिजिटल इण्डिया में स्थान दिया है। प्रदेश में वर्चुअल आईटी केडर शुरू किया गया है जिसमें बड़ी संख्या में अधिकारी-कर्मचारी रूचि दिखा रहे हैं। देश के प्रथम दो इलेक्ट्रॉनिक मेन्युफेक्चरिंग क्लस्टर मध्यप्रदेश में स्वीकृत हुए हैं। इनके शुभारम्भ के लिए उन्होंने केंद्रीय आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद को मध्यप्रदेश आने का न्यौता दिया। मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री की आईटी में विशेष रूचि के चलते उन्हें पूरा विश्वास है कि केंद्र सरकार के सहयोग से हम मध्यप्रदेश को आईटी हब बनाने के सपने को जल्दी साकार करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here