सैनिक स्कूल रीवा का सुरक्षा में अमूल्य योगदान

भोपाल, दिसम्बर 2014/ जनसंपर्क मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने कहा है कि सैनिक स्कूल रीवा का गौरव है। यहाँ के केडेट्स ने सेना में भर्ती होकर देश की सुरक्षा में अपना अमूल्य योगदान दिया है। इसके साथ ही शैक्षणिक, सामाजिक, राजनैतिक और प्रशासनिक क्षेत्रों में भी इस स्कूल से निकले छात्रों ने ऊंचाइयों के शिखरों को छुआ है।

श्री शुक्ल सैनिक स्कूल रीवा में वार्षिकोत्सव 2014 की एथलीट मीट को सम्बोधित कर रहे थे। उन्‍होंने ने केडेट्स के मार्च-पास्ट की सराहना की और कहा कि छात्रों का अनुशासन अनुकरणीय है। प्रतियोगिता में भाग लेना अपने आप में महत्वपूर्ण है। खिलाड़ियों को हार-जीत को खेल भावना के साथ लेना चाहिये। ऐसे आयोजनों से विद्यार्थियों की खेल प्रतिभा में निखार आता है। प्रतियोगिताओं के विजेता छात्रों को बधाई देते हुए कहा कि जो छात्र आज नहीं जीत सके वे लगन और परिश्रम के साथ अभ्यास करें। जिससे अगली बार उन्हें जीत मिल सके।

इससे पूर्व श्री शुक्ल का कार्यक्रम स्थल पर सैनिक स्कूल परिवार ने आत्मीय स्वागत किया। छात्रों ने अभिनंदन गीत की प्रस्तुति दी। केडेट्स ने मार्च-पास्ट कर मुख्य अतिथि को सलामी दी। जनसम्पर्क मंत्री ने विजेता खिलाड़ियों को पुरूस्कार एवं मेडल वितरित किये और चम्बल हाउस को ट्राफी प्रदान की।

इस अवसर पर प्राचार्य कर्नल पी.के. शर्मा, रजिस्ट्रार ले.क. एल.के. यादव और हेड मास्टर स्क्वाड्रन लीडर के.जे. एम. रेड्डी सहित सैनिक स्कूल परिवार के सदस्य तथा गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here