स्वास्थ्य मिशन के संविदा कर्मियों का वेतन पुनरीक्षित

भोपाल, फरवरी 2013/ राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन में संविदा आधार पर कार्यरत कर्मचारियों के वेतन में एकरूपता लाते हुए एक अप्रैल 2012 से उनके वेतन को पुनरीक्षित कर दिया गया है। इससे संविदा पर नियुक्त कार्यक्रम प्रबंध इकाइयों के 16 एवं चिकित्सकीय नर्सिंग संवर्ग के 9 पद पर कार्यरत कर्मी लाभान्वित होंगे। इस तरह राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत संविदा पर नियुक्त लगभग 20 हजार से अधिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पुनरीक्षित वेतनवृद्धि का लाभ मिलेगा।

पुनरीक्षित मानदेय में अब प्रतिमाह कार्यक्रम प्रबंधन इकाइयों में पदस्थ संभागीय कार्यक्रम प्रबंधक को 35 हजार, संभागीय लेखा प्रबंधक को 30 हजार, संभागीय लॉजिस्टक्स प्रबंधक को 25 हजार, जिला कार्यक्रम प्रबंधक को 30 हजार, जिला लेखा प्रबंधक को 25 हजार, जिला एम.एण्ड.ई. अधिकारी को 20 हजार, अस्पताल प्रबंधक को 25 हजार, जिला कम्युनिटी मोबिलाइजर को 15 हजार, आई.ई.सी./बी.सी.सी. सलाहकार को 15 हजार, सब इंजीनियर को 20 हजार, रेफ्रिजरेटर मेकेनिक को 10 हजार, विकासखण्ड कार्यक्रम प्रबंधक को 15 हजार, विकासखण्ड लेखा प्रबंधक को 10 हजार, विकासखण्ड कम्युनिटी मोबिलाइजर को 10 हजार, विकासखण्ड लेखापाल बीमॉक को 8000 और कम्प्यूटर आपरेटर को 9000 रुपये का मानदेय प्राप्त होगा।

इसी तरह संविदा आधार पर कार्यरत चिकित्सकीय एवं नर्सिंग संवर्ग में पी.जी. डिग्रीधारी शिशु रोग, निःश्चेतना, स्त्री रोग विशेषज्ञ चिकित्सकों को 48 हजार, पी.जी. डिप्लोमाधारी शिशु रोग, निःश्चेतना, स्त्री रोग विशेषज्ञ चिकित्सकों को 45 हजार, स्टाफ नर्स को 15 हजार, लेब टेक्नीशियन को 8000, ए.एन.एम. को 8000, फीडिंग डिमाँस्ट्रेटर में दो वर्ष से कम अनुभव को 7000, दो से पाँच वर्ष अनुभव को 8500 और पाँच वर्ष से अधिक अनुभव को 11 हजार 500, कुक एवं केयर टेकर को 3900 और स्वीपर को अब 3000 रुपये प्रतिमाह के मान से दिया जायेगा। यह वेतनवृद्धि संविदा पर पदस्थ अमले के कार्य प्रदर्शन के आधार पर मूल्यांकन बाद दी जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here