100 करोड़ की लागत से बनेंगे 5 नये खेल परिसर।

भोपाल, नवंबर 2012/ आदिम-जाति कल्याण मंत्री कुँवर विजय शाह ने कहा है कि प्रदेश में आदिवासी खिलाड़ियों को अपनी खेल प्रतिभा के प्रदर्शन के लिये भरपूर अवसर दिये जायेंगे। इन खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधाएँ उपलब्ध करवायी जायेंगी। प्रदेश में 5 नये खेल परिसर 100 करोड़ की लागत से बनाये जायेंगे। मंत्री कुँवर शाह आज भोपाल में आदिवासी उत्कृष्ट खिलाड़ियों के सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर अनुसूचित-जाति कल्याण राज्य मंत्री श्री हरिशंकर खटीक भी मौजूद थे।

मंत्री कुँवर शाह ने कहा कि जिन आदिवासी खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में मेडल प्राप्त किये हैं, उन्हें भविष्य में विभाग की खेल गतिविधियों से संबंधित संस्थाओं में रोजगार भी उपलब्ध करवाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि 5 नये खेल परिसर इंदौर, जबलपुर, श्योपुर, खरगोन एवं शहडोल में खोले जायेंगे। खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन कर सकें, इसके लिये खेल परिसरों में खिलाड़ियों को दिये जाने वाले मासिक भत्ते को 825 से बढ़ाकर 3000 रुपये किया गया है।

राज्य मंत्री श्री हरिशंकर खटीक ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस वर्ष प्रदेश में संचालित 22 खेल परिसर में खेल सामग्री खरीदने के लिये 3-3 लाख की राशि प्रदान की गई है। उन्होंने कहा कि आदिवासी वर्ग के खिलाड़ी खेल प्रतियोगिताओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर सकें, इसके लिये 50 खेल प्रशिक्षक के पद स्वीकृत किये गये हैं। उन्होंने कहा कि आदिवासी वर्ग की खिलाड़ी बालिकाओं को भी राष्ट्रीय स्तर की खेल सुविधाएँ प्रदान की जायेंगी।

आयुक्त आदिवासी विकास श्री आशीष उपाध्याय ने बतलाया कि वर्ष 2009-10 में आदिवासी खिलाड़ियों ने 7 स्वर्ण, 2 रजत, 3 काँस्य, वर्ष 2010-11 में 6 स्वर्ण, 11 रजत, 3 काँस्य एवं वर्ष 2011-12 में 12 स्वर्ण, 9 रजत एवं 4 काँस्य पदक प्राप्त किये थे। इस वर्ष आदिवासी खिलाड़ियों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए 136 स्वर्ण पदक प्राप्त किये हैं। कार्यक्रम को स्पोर्ट्स अथारिटी ऑफ इण्डिया, भोपाल सेंटर के संचालक श्री आर.के. नायडू ने भी संबोधित किया। विभागीय खेल गतिविधियों के बारे में राज्य खेल अधिकारी श्री आर.सी. बंजारा एवं उपायुक्त आदिवासी विकास श्री पंकज मेहता ने जानकारी दी।

कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्तर की पदक विजेता कु. इंदिरा सैकड़िया एवं आनंद ने खेल प्रतियोगिताओं के अनुभव सुनाये। संचालन श्री मनोज पांचाल ने भी किया। समारोह में प्रदेश की आदिवासी शिक्षण संस्थाओं के 176 खिलाड़ी एवं खेल प्रशिक्षक सम्मानित हुए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here