100 हाई स्कूल का हायर सेकेण्डरी में उन्नयन

भोपाल, अक्टूबर 2014/ राज्य शासन ने 100 शासकीय हाई स्कूल का हायर सेकेण्डरी स्कूल में उन्नयन किया है। सभी हायर सेकेण्डरी स्कूल विज्ञान, कला एवं वाणिज्य संकाय के साथ उन्नत हुए हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री श्री पारस जैन ने विगत जुलाई में हुए बजट सत्र में चालू माली साल के लिये 100 हाई स्कूल का हायर सेकेण्डरी में उन्नयन किये जाने की घोषणा की थी।

प्रदेश के जिन हाई स्कूल का हायर सेकेण्डरी में उन्नयन किया गया है, उनमें अशोकनगर का हाई स्कूल तुमैन, बालाघाट जिले के अमेड़ा, गर्रा-राम एवं गोरेघाट, बैतूल जिले के कल्याणपुर, बाँसपानी, लीलाझर एवं तीवरखेड़ भिण्ड जिले के अंधियारी खुर्द, भरोली कलां, कनाथर, टेहनगुर, भोपाल जिले के निपानिया सूखा और बगरोदा, छतरपुर जिले के दरगुवां, झीझन, पहरा, लखनगवां एवं सुकवा, छिन्दवाड़ा जिले के सिहोरामड़का, कोटलबर्री, सुक्लुढाना और कुनाझरीकला, दमोह जिले के टोरी और असलाना, देवास जिले के तालोद, पटारी, जामगोद, धार जिले के तिलगारा, दतिया जिले के मंगरोल, सालोन बी, कमरारी, बहादुरपुर, गुना के खामखेड़ा एवं बरखेड़ाखुर्द, ग्वालियर के शुकलहारी, हरदा के नयापुरा शामिल हैं। 

इसी प्रकार होशंगाबाद के पांजरा, इंदौर के अगरा, धरमपुरी, खण्डवा के गड़बड़ीमाल, मोझवाड़ी, बामंदा, खरगोन के रैगवाँ, जबलपुर के बडकुल, कटनी के जोबीकला, मंदसौर के भालोट, कोटड़ाखुर्द, ऐरा, मुरैना के बगपुरा, कैमाराकला, परसौदा, नरसिंहपुर के तेन्दूखेड़ा, श्रीनगर, नीमच के बरलाई, हाड़ीपिपल्या, कराड़िया महाराज, कोज्या, रायसेन के विनेका, बीरपुर, राजगढ़ के छापीहेड़ा, रतलाम के कमेड़, सिमलावदा, रीवा के बदरॉव, खम्हरिया चौबे, माझीगवां, सागर के दुगाहकला, मुहली, आगासोद, सेमरागोपालमन, छपरा, चित्तोरा, सतना के गोरसरी, कुलगढ़ी, कृष्णगढ़, सीहोर के फुडरा, धुराड़ाकला, आमोन, सिवनी के दोंदीवाड़ा, सीधी के जीएचएस पढारी, पन्ना के मुढवारी, शाजापुर के भरड़, पोचानेर नवीन, केवड़ाखेड़ी हाई स्कूल का हायर सेकेण्डरी में उन्नयन किया गया है।

शासन ने आगर के मोल्याखेड़ी, गुजरखेड़ी, श्योपुर के पांडोला, शहडोल के खरपा, शिवपुरी के चकरामपुर, टीकमगढ़ के ककावनी, चंदावनी, उज्जैन के कालूहेड़ा, चामलेश्वर, पंथ पिपलई, लेकुड़ा, जगोटी, बड़ागाँव, उमरिया के बिलासपुर तथा विदिशा के पालकी और भाल बामोरा स्थित हाई स्कूल को भी हायर सेकेण्डरी में परिवर्तन किया है। इन शालाओं में पदों की स्वीकृति की कार्यवाही की जा रही है। पद स्वीकृत होने के बाद शाला प्रारंभ करवाई जायेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here