15 अप्रैल से रामेश्वरम्, पुरी और वैष्णो-देवी यात्रा

भोपाल, अप्रैल 2015/ मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना में प्रदेश के बुजुर्ग 15 अप्रैल से 10 मई, 2015 के मध्य रामेश्वरम्, पुरी और वैष्णो-देवी की यात्रा करेंगे। इस अवधि में होने वाली 9 तीर्थ-यात्रा में प्रदेश के 39 जिले के तीर्थ-यात्री सम्मिलित होंगे। प्रत्येक ट्रेन में तीर्थ-यात्रियों के लिये करीब 1000 बर्थ होंगी और अनुरक्षक (एस्कार्ट) के रूप में शासकीय अधिकारियों या कर्मचारियों को तीर्थ-यात्रियों की सहायता के लिये भेजा जायेगा।

प्रमुख सचिव धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मनोज श्रीवास्तव ने इस संबंध में जबलपुर, नरसिंहपुर, छिन्दवाड़ा, मण्डला, डिण्डोरी, गुना, अशोकनगर, सागर, राजगढ़, बुरहानपुर, खण्डवा, हरदा, बड़वानी, खरगोन, दमोह, कटनी, शहडोल, उमरिया, शिवपुरी, ग्वालियर, दतिया, मुरैना, भिण्ड, विदिशा, भोपाल, होशंगाबाद, सीहोर, रायसेन, शाजापुर, आगर-मालवा, रीवा, सतना, सीधी, कटनी, सिंगरौली, पन्ना, अनूपपुर, बालाघाट और सिवनी जिले के कलेक्टर्स को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किये हैं।

तीर्थ-यात्री 15 अप्रैल, 2015 को जबलपुर से रामेश्वरम् जायेंगे और 20 अप्रैल को लौटेंगे। इस यात्रा के लिये जबलपुर जिले को 265 बर्थ, नरसिंहपुर 209, छिन्दवाड़ा 260, मण्डला 122 और डिण्डोरी को 120 बर्थ का आवंटन किया गया है। इसी तरह 16 अप्रैल को गुना से पुरी की तीर्थ-यात्रा के लिये गुना को 265, अशोकनगर को 249, सागर को 261 और राजगढ़ जिले को 201 बर्थ आवंटित की गई हैं। बुरहानपुर से तीर्थ-यात्री 17 अप्रैल को रामेश्वरम् रवाना होकर 22 अप्रैल को लौटेंगे। इस यात्रा के लिये बुरहानपुर जिले को 205, खण्डवा 250, हरदा 163, बड़वानी 160 और खरगोन को 198 बर्थ मिली हैं।

दमोह से तीर्थ-यात्री 23 अप्रैल को रामेश्वरम् जायेंगे और 28 अप्रैल को वापस आयेंगे। इस यात्रा में दमोह से 249, कटनी 252, शहडोल 254 और उमरिया से 221 तीर्थ-यात्री जायेंगे। शिवपुरी से यात्री 24 अप्रैल को रामेश्वरम् के लिये प्रस्थान कर 29 अप्रैल को वापस लौटेंगे। इस यात्रा के लिये शिवपुरी को 248, ग्वालियर 263, दतिया 198, मुरैना 152 और भिण्ड को 115 बर्थ निर्धारित की गई हैं।

मई माह में तीर्थ-यात्री एक तारीख को विदिशा से रामेश्वरम् जाकर 6 मई को लौटेंगे। तीर्थ-यात्रियों में 247 विदिशा जिले, 265 भोपाल, 165 होशंगाबाद, 151 सीहोर और 148 रायसेन जिले के शामिल हैं। गुना से 2 मई को रामेश्वरम् जाने वाले तीर्थ-यात्री 7 मई को वापस लौटेंगे। इन यात्रियों में 262 गुना, 220 राजगढ़, 265 शाजापुर और 230 आगर जिले के शामिल हैं।

वैष्णो-देवी की यात्रा के लिये तीर्थ-यात्री रीवा से 9 मई को रवाना होकर 14 मई को लौटेंगे। इसके लिये रीवा से 251, सतना 248, सीधी 151, कटनी 177 और सिंगरौली से 149 बर्थ का आरक्षण किया गया है। सतना से 10 मई को तीर्थ-यात्री रामेश्वरम् रवाना होकर 15 मई को लौटेंगे। इस यात्रा के लिये सतना से 245, पन्ना 165, अनूपपुर 210, बालाघाट 205 और सिवनी से 151 बर्थ का आरक्षण किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here