25 लाख तक के उद्योग पर युवाओं को ऋण गारंटी

शिवराज ने युवा पंचायत में दी कई सौगातें

भोपाल, जनवरी 2013/ मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि युवाओं को 25 लाख रुपये लागत तक के स्वरोजगार स्थापित करने पर शत-प्रतिशत ऋण गारंटी और रोजगार स्थापना के प्रारंभिक पांच वर्ष तक पांच प्रतिशत ब्याज अनुदान राज्य सरकार देगी। इसी तरह 50 हजार रुपये लागत के लघु उद्योग पर 20 प्रतिशत मार्जिन मनी तथा ऋण गारंटी राज्य सरकार देगी। श्री चौहान यहां जम्बूरी मैदान पर स्वामी विवेकानंद महोत्सव समारोह की श्रंखला में आयोजित युवा पंचायत को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने युवाओं से आह्वान किया स्वयं के तथा प्रदेश के विकास का संकल्प लें।

मुख्यमंत्री ने युवाओं के लिए कई सौगातों की घोषणा की। कहा कि चौबीसों घंटे बिजली की उपलब्धता का लाभ लेते हुए युवा गांव-गांव में उद्योग लगायें और अपने मध्यप्रदेश को समृद्ध और विकसित बनायें। उच्च शिक्षा ऋण की गारंटी अब राज्य सरकार लेगी। ऋण का ब्याज भी राज्य सरकार देगी। ऋण उपलब्ध कराने लिए सभी जिलों में मेले लगायें जायेंगे। प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को विदेश में अध्ययन के लिए 15 लाख रुपये तक की मदद की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने युवाओं के लिए ”माँ तुझे प्रणाम” योजना की घोषणा करते हुये कहा कि इस योजना में युवाओं को देश की सीमाओं के दर्शन करने और मातृभूमि को प्रणाम करने के लिए भेजा जाएगा। इसके लिए भारतीय सेना से चर्चा की जाएगी। ओलंपिक के लिए मध्यप्रदेश में वॉटर स्पोर्ट्स, मार्शल आर्ट्स और शूटिंग में युवाओं को उच्च स्तरीय प्रशिक्षण दिया जाएगा। खेल पुरस्कारों की राशि को दोगुना किया जाएगा तथा पंद्रह जिलों में हॉकी के एस्ट्रोटर्फ मैदान बनाये जायेंगे। शिक्षा के पाठ्यक्रम में नैतिक शिक्षा को  शामिल किया जाएगा। चिकित्सा महाविद्यालयों में योग की कक्षायें लगायी जायेंगी। मुख्यमंत्री युवा ओलंपिक का आयोजन गांव, विकासखंड से राज्य स्तर तक किया जाएगा। इसके विजेताओं को विवेकानंद स्मारक कन्याकुमारी के दर्शन के लिए भेजा जाएगा। महाविद्यालयों में एनएसएस और एनसीसी का विस्तार किया जाएगा।

श्री चौहान ने डुप्लीकेट अंकसूची, माईग्रेशन सर्टीफिकेट और टी.सी. प्रदान करने जैसी सुविधाओं को लोक सेवा गारंटी प्रदाय गारंटी अधिनियम में लाने की घोषणा की। कहा कि सभी महाविद्यालयों में मार्शल आर्ट्स सिखाया जाएगा। महाविद्यालयों में प्राध्यापकों के रिक्त पद भरे जायेंगे, महाविद्यालयों में स्मार्ट कक्षाओं का विस्तार किया जाएगा। ग्यारह महाविद्यालयों को कम्युनिटी महाविद्यालय के रूप में विकसित किया जाएगा। अनुसूचित जाति, जनजाति के विद्यार्थियों के लिए 20 पोस्टमैट्रिक छात्रावास और 20 कन्या आश्रम परिसर स्थापित किये जायेंगे। शासकीय महाविद्यालयों परिसरों को वायफाई सुविधा तथा छात्रावासों के कक्षों में इंटरनेट सुविधा दी जाएगी। सभी महाविद्यालयों की प्रयोगशालाओं को अपग्रेड करने का अभियान चलाया जाएगा। माध्यमिक शिक्षा मंडल की बारहवीं की परीक्षा में 85 प्रतिशत से ज्यादा अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को लेपटॉप दिया जाएगा। युवाओं को रोजगार मूलक शिक्षा के लिए देश की पहली वोकेशनल यूनिवर्सिटी मध्यप्रदेश में स्थापित होगी। सभी जिला मुख्यालयों के महाविद्यालयों में प्लेसमेंट सेल बनाया जाएगा तथा सभी जिला मुख्यालयों पर विवेकानंद युवा केन्द्र स्थापित किये जायेंगे। झाबुआ, शहडोल, नौगांव के इंजीनियरिंग कॉलेज खुल रहे हैं। प्रदेश के इंजीनियरिंग कॉलेजों में पढ़कर निकलने वाले युवाओं के लिए मुख्यमंत्री युवा कांट्रेक्टर योजना लागू की जाएगी। प्रशिक्षण दिलाया जाएगा और जरूरत पड़ने पर कार्यशील पूंजी भी उपलब्ध करायी जाएगी। साथ ही मुख्यमंत्री इंटर्नशिप योजना शुरू की जाएगी। कस्टम हायरिंग सेंटर शुरू करने के लिए युवाओं को दस लाख रुपये तक का अनुदान दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने देश के लिए शहीद होने वाले प्रदेश के सैनिकों को श्रद्धांजलि देते हुये कहा कि शहीदों के परिवारों को हर संभव मदद दी जाएगी। मध्यप्रदेश में देश का पहला शौर्य-स्मारक बनाया जा रहा है।

जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने कहा कि स्वामी विवेकानंद की 150वीं जयंती पर आयोजित युवा पंचायत के माध्यम से राज्य सरकार युवाओं को सही मार्गदर्शन देने के लिए संकल्पबद्ध है। आज युवाओं को एक साथ शिक्षा और रोजगार के अवसर उपलब्ध है। सरकार युवाओं को शैक्षणिक रूप से सक्षम बनाकर उन्हें राज्य के नवनिर्माण में भागीदारी का अवसर उपलब्ध कराना चाहती है।

राज्य भाजपा अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर ने युवा शक्ति को राज्य की शक्ति बताते हुए कहा कि हर बड़े परिवर्तन में युवाओं की भूमिका महत्वपूर्ण होती है। प्रदेश के इतिहास में पहली बार युवा शक्ति के साथ सीधे संवाद की पहल हुई है। मध्यप्रदेश निरंतर विकास कर रहा है और इसे केन्द्र सरकार की सराहना मिल रही है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर अंतर्राष्ट्रीय बॉक्सिंग चैपियन सुश्री आशा रूका को चार लाख रुपये का चैक भेंट कर सम्मानित किया।

युवा पंचायत में युवा वर्ग के प्रतिनिधियों ने बेझिझक अपनी बात मुख्यमंत्री के सामने रखी और युवाओं के हित में अपने सुझाव दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here