मुरैना। इंदौर और उज्जैन के बाद अब जहरीली शराब ने मुरैना जिले में मौत का तांडव मचाया है। यहां के चार गाँव में जहरीली शराब का शिकार हुए दर्जनों लोग अस्पताल पहुंच चुके हैं। आरंभिक खबरों के मुताबिक इनमें से अब तक 12 लोगों की जान जान चुकी है, जबकि अनेक लोग मुरैना और ग्वालियर के अस्पतालों में भरती हैं।

बताया गया है कि बीते रोज दोपहर से ही जहरीली शराब ने अपना तांडव मचाना शुरू कर दिया था। सबसे पहले सुमावली क्षेत्र के ग्राम पहावली में दो लोगों की हालत बिगड़ी और इनको जब तक उपचार के लिये अस्पताल ले जाया गया तब तक इनके प्राण पखेरू उड़ गए। जब तक ग्रामीण कुछ समझ पाते तब तक बागचीनी इलाके में भी इस जहरीली नकली शराब ने लोगों को बीमार करना शुरू कर दिया।

शुरू में पहावली में 3 और मानपुर में सात लोगों की जान गई जिससे कोहराम मच गया। सुबह होने तक एक और युवक ने दम तोड़ दिया। अभी तक मरने वालों की संख्या 12 हो चुकी है। इनमें से 2 शव ग्वालियर तथा सात शव मुरैना में है जबकि गंभीर रूप से आये एक और व्यक्ति ने ग्वालियर में दम तोड़ दिया। मरने वालों का आंकड़ा और भी बढ़ सकता है।

चार पर केस दर्ज,कई हिरासत में
पुलिस के अनुसार जहरीली शराब गुपचुप ढंग से सप्लाई करने के आरोप में फिलहाल बागचीनी थाने में चार लोगों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया गया है जबकि एक दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में लिया गया है।अभी तक कि जांच पड़ताल से जो तथ्य निकलकर आये हैं उनके अनुसार ज़िले के छेरा गांव से यह जहरीली शराब की सप्लाई हुई थी। इसके बाद इसे पीकर लोग गंभीर रूप से बीमार पड़ने लगे। इस जहरीली शराब को पीने वालों की तलाश करने के लिए पुलिस और आबकारी की टीम रात से ही गांव में डेरा डालकर पता कर रही है। चार गंभीर लोगों को ग्वालियर लाकर भर्ती कराया गया है।

गाँव में पसरा शोक
जिन गाँव में इस जहरीली शराब ने लोगो को नशे की जगह मौत परोसी है वहां दहशत और आक्रोश दोनों पसरे हुए हैं। लोगों का कहना है कि शराब माफिया बेखौफ इस क्षेत्र में गांव-गांव में जहरीली शराब की बिक्री कर युवाओं को मौत के मुंह में धकेल रहा है, लेकिन सब पता होने के बावजूद प्रशासन मुंह बन्द किये बैठा रहता है। बताया गया कि इस जहरीली शराब की बिक्री रविवार को हुई और इसी दिन बागचीनी इलाके के एक गाँव में एक व्यक्ति ने दम तोड़ दिया। उस समय लोगों ने इसे सहज मौत मानकर उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। लेकिन शाम तक सुमावली और बागचीनी थाना क्षेत्र के आधा दर्जन गाँव में शराब पीकर लोगों की हालत बिगड़ने की खबरें आई, तब लोगों में हड़कंप मचा और वे बीमारों को लेकर अस्पताल की तरफ दौड़े। अब तक जिन 12 लोगों की मौतें हुई हैं उनमें 3 सुमावली और नौ बागचीनी इलाके के बताए जा रहे हैं।