भोपाल/ मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी के कृषि संकाय के 5 विद्यार्थी राजस्थान के श्रीगंगानगर स्थित स्टार एग्री सीड्स में ट्रेनिंग लेकर लौटे। इस दौरान विद्यार्थियों ने सीड टेक्नोलॉजी के बारे में विस्तार से अध्ययन किया। मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी और स्टार एग्री सीड्स के बीच एमओयू साइन किया गया है, जिसके तहत विद्यार्थियों को प्रशिक्षण लाभ प्रदान किया गया।

प्रशिक्षण लेकर वापस लौटे विद्यार्थियों ने सोमवार को व्याख्यान के माध्यम से अन्य विद्यार्थियों से अपने अनुभव साझा किए। प्रशिक्षुओं में कृषि संकाय के तृतीय वर्ष के विद्यार्थी जया मंडल, रंजीत पटेल, प्रतिमा पटेल, प्रणव और श्रुति राज शामिल रहे। जिनमें से छात्रा जया मंडल ने बीज कंपनी में फसलों की वैरायटी को कैसे बनाया जाता है, इस तकनीक के बारे में विस्तृत चर्चा की। वहीं कुछ अन्य छात्रों ने फसलों में परागण कैसे किया जाता है, इसकी संपूर्ण विधि बताने के साथ ही एग्री सीड्स द्वारा आयोजित किए जाने वाले किसान मेलों के बारे में बताया।

व्याख्यान श्रृंखला में उपस्थित यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डॉ. अरुण कुमार पांडेय ने सीड टेक्नोलॉजी की उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुए विद्यार्थियों को ज्यादा से ज्यादा कृषि आधारित ट्रेनिंग लेने की आवश्यकता पर बल दिया। साथ ही प्रशिक्षुओं के अनुभवों का अन्य विद्यार्थियों को लाभ लेने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर कुलाधिपति श्रीमती मंजुला तिवारी और प्रो. चांसलर इंजी. गौरव तिवारी ने प्रशिक्षुओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि कृषि क्षेत्र में असीम संभावनाएं हैं और इस तरह की ट्रेनिंग निश्चित ही विद्यार्थियों के लिए लाभप्रद सिद्ध होगी। इस अवसर पर कृषि संकाय के सभी प्राध्यापक और बड़ी संख्या में विद्यार्थीगण मौजूद रहे।