ओम वर्मा

राम-मंदिर भूमि पूजन 05 अगस्त को। मंदिर में तीन के बजाय पाँच गुंबद होंगे। ऊँचाई भी बढ़ाई।

पूजा भी हो राम की, हों ऐसे भी काज।
दुनिया वाले यूँ कहें, यहाँ राम का राज॥

सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि 65 मामले का आरोपी होने के बावजूद विशाल दुबे ज़मानत पर कैसे छूटा?

अब तो होना चाहिए, ऐसा एक प्रहार।
गुंडा-सत्ता मेल फिर, ले न सके आकार॥ 

ट्रंप को हराने के लिए बिडेन ने मुस्लिमों से माँगा समर्थन।

सुन लो मुस्लिम भाइयो, बेचो नहीं ज़मीर।
जिसको चाहो तुम चुनो, लिखो स्वयं तक़दीर॥

चीन ने फिर धोखा दिया। सहमति के बाद भी नहीं हटाए चालीस हज़ार सैनिक। 

दुनिया को देकर वबा, नहीं हुआ मन शांत।
इसीलिए वह चाहता, भारत हो आक्रांत॥

द्वारका-शारदापीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने राममंदिर की नींव रखने के लिए 05 अगस्त का दिन ‘अशुभ घड़ी’ बताया

मंदिर के निर्माण में, उचित नहीं अवरोध।
क़ानूनी है फैसला, नादां करें विरोध॥