भोपाल। मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी द्वारा मानसरोवर आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के ऑडिटोरियम में ‘आयकर के महत्व और करदाताओं की भूमिका’ विषय पर व्याख्यान का आयोजन किया गया। जिसमें आयकर विभाग के डिप्टी कमिश्नर सौजन्य रंजन ने आयकर के अलग-अलग पहलुओं पर विस्तृत चर्चा की। साथ ही आयकर के महत्व को समझाते हुए उन्होंने टैक्स संग्रहण में आयकर विभाग की भूमिका, टैक्स जमा करने की सरल विधि और नियमों के अनुसार आयकर फॉर्म भरने का तरीका समझाया।

इससे पहले मुख्य अतिथि सौजन्य रंजन का स्वागत करते हुए मानसरोवर ग्लोबल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डॉ. अरुण कुमार पांडेय ने विश्व के उन देशों के बारे में बताया जहां किसी प्रकार का कर नहीं लिया जाता है। उन्होंने भारतवर्ष के करदाताओं से प्राप्त धनराशि का देश की प्रगति के लिए कैसे उपयोग करें इस बारे में भी विस्तार से चर्चा की।

अंत में कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए बधाई प्रेषित करते हुए संस्थान की चांसलर श्रीमती मंजुला तिवारी और प्रो. चांसलर इंजी. गौरव तिवारी ने कहा कि प्रत्येक भारतीय नागरिक का यह कर्तव्य है कि वह आयकर नियमों के अनुसार समय से कर का भुगतान करें। इस अवसर पर आयकर इंस्पेक्टर सौरभ चौरे, मानसरोवर डेंटल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. गुरुदत्त नायक, मानसरोवर आयुर्वेदिक कॉलेज के प्राचार्य डॉ. अनुराग सिंह राजपूत, श्री साईं इंस्टिट्यूट ऑफ आयुर्वेदिक रिसर्च के प्राचार्य डॉ. भारत चौरागड़े सहित बड़ी संख्या में प्राध्यापक और छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।